Translate

टूट गया थर्मामीटर! धरती के इस इलाके में पारा लुढका -67 डिग्री

पूरी दुनिया में ठंड का कहर जारी है. एक तरफ जहां नायग्रा फॉल्स जमी हुई है तो वहीं कनाडा में जोरदार ठंड पड़ रही है. लेकिन एक ऐसी जगह है जहां दुनिया की सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है. जहां लोगों का रहना मुश्किल हो गया है. रूस के साइबेरिया में बर्फ की घाटी में एक गांव बसा है जहां सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है. इस गांव का नाम है ओइमाकॉन है. जनवरी के समय यहां का औसतन तापमान -51डिग्री के आसपास रहता है.लेकिन कुछ दिन पहले इस गांव में रिकॉर्ड तोड़ सर्दी पड़ी जिसके चलते पारा माइनस 62 डिग्री तक गिर गया। इसी के साथ गांव के बीचोंबीच लगा डिजिटल थर्मामीटर ठप्प पड़ गया।

Brought to you by Hotfoot train status - pnr status live, Trains, Metro & Cabs. Available for iPhone and Android

IRCTC Railways App


यहां के लोगों का गुजर-बसर करना मुश्किल हो गया है. नदी से लेकर पेड़ सभी चीज जमी हुई है. सोशल मीडिया पर यहां की तस्वीरें काफी वायरल हो रही हैं. बता दें, ओइमाकॉन का मतलब होता है, ऐसी जगह जहां पानी जमता नहीं हो, लेकिन यहां पानी से लेकर इंसान भी जम गया है. यहां सबसे कम तापमान -72 डिग्री रिकॉर्ड किया गया था. इस जगह को 'पोल ऑफ कोल्ड' भी कहा जाता है.


worlds coldest village, indian railway, train booking

हमेशा चालू रहती हैं गाड़ियां

आपको बता दें कि ओयमयाकोन गांव में लगभग 500 की आबादी है। 1920-30 के दशक में यहां रेनडियर चलाने वाले जानवरों को पानी पिलाने के लिए रुका करते थे क्योंकि उस वक्त यहां गर्म पानी के कुंड थे। इसी कारण इसका नाम ओयमयाकोन पड़ा, जिसका अर्थ है वो पानी जो कभी नहीं जम सकता। यहां रोजमर्रा की जिंदगी में पेन की इंक दम जाने, चश्मे पर बर्फ जम जाने, कार की बैटरी का पीवर खत्म होने जैसी दिक्कतें आम हैं। यहां लोगों को अपनी गाड़ी हमेशा चालू रखनी पड़ती है ताकि गाड़ी स्टार्ट न होने का खतरा टल जाए।

BUZZ NEWS

Powered by Blogger.