508 Km/hr दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

IRCTC App, Railways App, IRCTC Seat Availability, Indian Railways PNR Status, Indian Railway, Rail Info, Indian Rail

मुंबई से अहमदाबाद के बीच 508 किमी रेल लाइन पर बुलेट ट्रेन चलाने के लिए रेल मंत्रलय और एमएलआईटी के बीच एक सहयोग ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया है। 97,636 करोड़ की लागत वाली इस परियोजना के लिए 79,000 करोड़ रुपये जापान सरकार मुहैया कराएगी। 

यह ऋण पचास वषों के लिए है और उसमें भी पहले 15 वर्ष तक व्याज दर मात्र 0.1 फीसद रहेगा। मेक इन इंडिया के तहत जापान तकनीकी का हस्तानांतरण भी करेगा। जिससे भारतीय रेल को दुर्घटना रहित बनाने में भी मदद मिलेगी।1पूवरेत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार इस परियोजना के तहत रेल लाइन, विश्वस्तरीय स्टेशनों का निर्माण और उनका विद्युतीकरण किया जाना है, जिससे 7 साल के अंदर हजारों लोगों के लिए रोजगार का सृजन होगा।



जहां रेलवे जाती है, वहां आस-पास व्यावसायिक गतिविधियां तेज हो जाती हैं। स्टेशनों एवं गाड़ियों के परिचालन से संबंधित कर्मचारियों को तो रोजगार मिलता ही है, साथ ही स्टेशन पर स्थित स्टॉल, पार्सल व्यवसाय आदि से जुड़े हजारों गैर रेलवे कर्मचारियों का परिवार भी पलता है।1सोशल साइट्स पर अफवाह: सीपीआरओ के अनुसार सोशल साइट्स पर यह अफवाह फैलाई जा रही है कि टीटीई को आदेश दिये गए हैं कि साधारण बोगी के यात्रियों से अधिक वसूली की जाए, ताकि बुलेट ट्रेन सहित अन्य रेलवे परियोजनाओं के लिए पैसे जमा किये जा सके। 

यह भी बताया जा रहा है कि आम आदमी सरकार से संवाद स्थापित नहीं कर सकता है। यह सरासर गलत है। ऐसी अफवाहें पूर्व में भी फैलाई गई थीं और दोबारा दोबारा फैलाई जा रही हैं। दरअसल ऐसी अफवाहें निहित स्वार्थवश ऐसे अराजक तत्वों द्वारा फैलाई जा रही हैं, जो सरकार और आम जनता के बीच अविश्वास का वातावरण पैदा कर देश की तरक्की में बाधा पैदा करना चाहते हैं। उन्हें चिन्हित कर कार्रवाई भी की जा रही है।


People

Powered by Blogger.