आखिर पटरी पर सरिया आया कैसे, जांच शुरू

rail ticket booking app, india rail info, indian railways inquiry, Railway, PNR Status, indian railways enquiry, ntes
इटारसी से जबलपुर आ रही पवन एक्सप्रेस के कोच में लोहे की सरिया फंसने के मामले की जांच रेलवे ने शुरू कर दी है। इस घटना ने रेलअधिकारी और कर्मचारियों की लापरवाही को सामने ला दिया है। कोच और पटरी के बीच फंसे रेलवे के दो विभाग एक-दूसरे की गलती मान रहे हैं। जबलपुर मंडल के मैकेनिकल विभाग की मानें तो ट्रेन के पहिए में फंसा सरिया रेलकर्मी का ही था, जो गलती से पटरी पर छूट गया होगा। इधर इंजीनियरिंग विभाग इस बात को सिरे से खारिज कर रहा है। इनका मानना है कि यदि ऐसा हुआ होता है, सरिया ट्रेन के इंजन फंसता न की ट्रेन के 15 वें कोच में। हालांकि मामले की जांच वरिष्ठ अधिकारियों ने शुरू कर दी है।

पवन भी होती दुर्घटनाग्रस्त

इस मामले में अब तक हुई जांच में रेलवे की लापरवाही सामने आ रही है। पटरी पर सरिया रखने की प्रारंभिक जांच में कई ऐसी बात सामने आई हैं, जिसमें जबलपुर मंडल अधिकारी ही फंसते नजर आ रहे हैं। दरअसल, रात तकरीबन डेढ़ बजे ट्रैक पर सरिया रखने और फिर पहिए में फंसने की घटना को दुर्घटना होने से ड्राइवर की सजगता ने बचाया, लेकिन पटरी पर सरिया कैसे आया, इसका स्पष्ट कारण कोई विभाग नहीं बता पा रहा।

News Courtesy: NaiDunia

ALSO READ:-



No comments:

People

Powered by Blogger.