Translate

IRCTC Launches New App for Faster Booking of Tickets

सुरेश प्रभु ने पेश किया नया ऐप आईआरसीटीसी रेल कनेक्ट, फटाफट होगी टिकट बुकिंग 

 indian railways irctc app

अक्सर लोग शिकायत करते हैं कि टिकट बुक करते समय आईआरसीटीसी की साइट हैंग हो जाती है या फिर वो ठीक से काम नहीं कर रही, मतलब कहने का ये कि ऑनलाइन टिकट बुक करते समय दुनिया भर की समस्याएं सामने आती हैं। एंड्रायड बेस्ड ऐप में 8 बजे सुबह से 12 बजे दोपहर तक बुकिंग न कर पाने की पिछले ऐप की अड़चन को दूर कर दिया गया है क्योंकि यह चौबीसों घंटे काम करेगा। यही नहीं, इसमें जनरल, महिला, तत्काल और प्रीमियम तत्काल कोटे की बुकिंग भी संभव होगी, जो पहले ऐप में नहीं थी। 

इसके जरिए करेंट बुकिंग के अलावा टिकट कैंसिल कराना, बोर्डिंग प्वाइंट चेंज करना, पीएनआर इंक्वायरी के अलावा टीडीआर (टिकट डिपॉजिट रिसीट) फाइल करना आसान हो गया है।  इतना ही नहीं बल्कि इस एप के जरिए अब टिकट की बुकिंग और उसें कैंसल करना भी पहले से ज्यादा आसान हो चुका है।

रेल कनेक्ट में क्या है नया?
Indian Railway IRCTC PNR App की सबसे बड़ी खासियत है कि यह irctc.co.in से कनेक्टेड है। पहले के ऐप में वेबसाइट और ऐप सिंक न होने से समस्या आती थी। नया ऐप पहले से ज्यादा सुरक्षित है और इसमें पिन आधारित लॉग इन प्रणाली है, जिसमें बार-बार यूजरनेम और पासवर्ड डालने की जरूरत नहीं होती। नया ऐप आईआरसीटीसी की ई-वॉलेट के साथ काम करेगा, ताकि तेजी से और आसानी से भुगतान हो सके। नए ऐप में 40 से ज्यादा बैंकों से नेट बैंकिंग, डेबिट-क्रेडिट कार्ड, पेटीएम, पेयू, मोबिक्विक आदि से भुगतान की सुविधा है।

  • प्रभु के मुताबिक ई-टिकटिंग से रोज10 लाख से ज्यादा टिकट बुक हो रहे हैं जो कुल बुकिंग का 58 फीसदी है। 
  • ऐप 'Indian Railway IRCTC PNR App' से अब इस संख्या में इजाफा होगा।
  • ऐप में तत्काल टिकट, महिला कोटा, प्रीमियम तत्काल कोटा बुकिंग और करंट रिजर्वेशन जैसे विकल्प मौजूद हैं। 
  • इसमें पिन आधारित लॉग इन प्रणाली है, जिसमें बार-बार यूजरनेम और पासवर्ड डालने की जरूरत नहीं होगी और ना ही लोग बार-बार ऊबेंगे। 
  • नया ऐप आईआरसीटीसी की ई-वॉलेट के साथ काम करेगा। 
  • इस ऐप में 40 से ज्यादा बैंकों से नेट बैंकिंग, डेबिट-क्रेडिट कार्ड, पेटीएम, पेयू, मोबिक्विक आदि से भुगतान की सुविधा है। 
यूटीएसऑनमोबाइल :-  दूसरी ओर यूपीएसऑनमोबाइन ऐप में भुगतान के दो नए विकल्प-पेटीएम और मोबीक्विक जोड़े गए हैं। यह ऐप मुंबई तथा नई दिल्ली-पलवल सेक्शन की उपनगरीय ट्रेनों के 501 स्टेशनों पर रोजाना 53,000 यात्रियों के अनारक्षित टिकटों की बुकिंग के लिए इस्तेमाल होता है।

ई—टिकटिंग सिस्टम पर आधारित : Indian Railway IRCTC PNR App नेक्स्ट जेनरेशन ई-टिकटिंग सिस्टम पर आधारित है जिसके जरिए तेजी और आसानी से ट्रेन टिकट के टिकट बुक किए जा सकते हैं। इसके अलावा इस एप के जरिए यात्री अपने सफर से संबंधित पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं। इतना ही नहीं बल्कि इस एप के जरिए अब टिकट की बुकिंग और उसें कैंसल करना भी पहले से ज्यादा आसान हो चुका है।

ये जानकारियां भी कर सकते हैं हासिल :- Indian Railway IRCTC PNR App से आप पुराने रिजर्वेशन की भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसमें पुरानी जानकारी सेव हो जाएगी जिसकी वजह से आपको हर बार अपनी डीटेल्स नहीं भरनी पड़ेगी। इस एप में प्लान की गई यात्रा का अलर्ट भी आपको मिलता रहेगा।

वेबसाइट के साथ करेगा काम:- Indian Railway IRCTC PNR App की एक और खास बात ये है कि यह रेलवे की टिकट बुकिंग वेबसाइट के साथ मिलकर काम करेगा। यानी जो अपडेट वेबसाइट पर होंगे वो इस एप में तुरंत मिलेंगे। इस एप में 40 से ज्यादा बैंकों से नेट बैंकिंग, डेबिट-क्रेडिट कार्ड समेत पेटीएम, पेयू, मोबीक्विक आदि से पेमेंट करने की सुविधा है।

सुरक्षित एप: रेलवे के इस नए एप को पहले से ज्यादा सुरक्षित बनाया गया है। इसमें पिन आधारित लॉगइन प्रणाली है जिसकी वजह से बार-बार यूजरनेम और पासवर्ड डालने की जरूरत नहीं पडेगी। यह एप आईआरसीटीसी की ई-वॉलिट के साथ काम करेगा जिससे तेजी और आसानी से पेमेंट हो सके।

रेलवे की नई नीति: नई नीति के तहत ट्रेनों, स्टेशनों पर विज्ञापन की अनुमति दी जाएगी। जिसके जरिए सालाना 2,000 करोड़ रुपये की आमदनी का लक्ष्य रखा गया है। इस नीति में ट्रेनों, लेवल क्रॉसिंग और ट्रैक के आसपास की जगहों का इस्तेमाल विज्ञापनों के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा भी कई नीतियां शामिल हैं। इनमें ट्रेनों की ब्रांडिंग, रेल रेडियो योजना तथा प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल एटीएम लगाने और कम भीड़भाड़ वाले प्लेटफॉर्मों को शादी विवाह या शिक्षा के कार्य के लिए किराये पर देना शामिल है।

ALSO READ :- 

BUZZ NEWS

Powered by Blogger.