CCTV Coffee Mmachine GPS Info System 3-Tier AC Coaches of Trains

खुशखबरी: AC-3 कोच में होगा CCTV, कॉफी मशीन और GPS की सुविधा

जल्द ही रेलवे अपनी सभी ट्रेनों में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। और यह अभी कुछ ट्रेनों में किया जायेगा लेकिन आप 15 नवंबर से कुछ ट्रेनों बदलाव देख सकते है
 Indian Railways Train Ticket Booking App

 हां यह सिर्फ एसी 3 टायर में किया गया है । एसी थ्री टायर के सभी डिब्बों में अब सीसीटीवी कैमरे, चाय-कॉफी मशीन और जीपीएस सिस्टम लगा दी गयी है जो की आने वाले समय में दूसरी ट्रेनों में भी दिखेगा। इतना ही नहीं कोच के अंदर का कलर भी बदला होगा और ऑटोमेटिक रूम फ्रेशनर लगा मिलेगा।

अंग्रेजी अखबर इंडियन एक्‍सप्रेस को इंडियन रेलवे के आला अधिकारी ने बताया है कि सभी ट्रेनों को आधुनिक बनाया जा रहा है इसी पर काम चल रहा है| अब ट्रेन के सभी कोचों के दरवाजे के ऊपर जीपीएस सिस्टम लगा होगा जिसमें हर यात्री की जानकारी होगी। फायर और स्मोक डिटेक्टर भी हर कोच में लगा होगा जिससे यात्रियों को होने वाली परेशानी के बारे में आसानी से पता लग सके। कोच में यात्रियों के सफर को और सुहाना बनाने के लिए ऑटोमैटिक रूम फैशनर भी लगे होंगे। एयरलाइंस की तरह ट्रेन के कोच में मिडिल, लोअर और अपर बर्थ के लिए लाइट वाले इंडिकेटर लगेंगे।

टॉयलेट की दीवारों पर लगेंगे कार्टून :- एसी थ्री टायर के कोच की सुबिधाओ को बढ़ाने तथा यात्रियों के सफर को और सुहाना बनाने की दिशा में काम चल रहा है और अब सफर के दौरान अगर आप टॉयलेट जाएंगे तो भी आपको काफी कुछ बदला-बदला नजर आएगा। भारतीय रेलवे की तरफ से टॉयलेट के दीवारों पर कार्टून लगाए जाएंगे। हर कोचों में पर्दों की व्‍यवस्‍था होगी। आपको बता दें कि अभी फिलहाल सिर्फ फर्स्‍ट क्‍लास में सभी कोचों में पर्दों की व्‍यवस्‍था है।

हमसफर सर्विस में होगी ये सुविधाएं :- रेलवे सभी ट्रेनों के लिए नए कोचों का बना रहा है और अभी यह सुबिधा एसी थ्री टायर हमसफर सर्विस में शुरू हो गया है  जो ट्रेन दिल्ली से शुरू होकर गोरखपुर तक जाती है। और इस ट्रैन कोच रायबरेली की फैक्ट्री में बनाए गए है। रेलवे के अनुसार हमसफर ट्रेन की सीटें अन्‍य रेलगाडि़यों की तुलना में ज्‍यादा आरामदेह होंगी। इन सीटों में बेहतर पैड लगाए गए हैं। ऊपर की बर्थ के लिए ज्‍यादा आरामदायक हेड रेस्‍ट हैं। अभी इन कोच को चार नए ट्रेनों से जोड़ने की योजना है। और जल्द ही और दूसरे ट्रेनों में भी इस प्रकार की सुबिधा दी जाएगी|

No comments:

People

Powered by Blogger.